Indian Festival Navratri

नवरात्रि स्पेशल 2021 : नवरात्री {दुर्गा पूजा} क्यों मनाते है।

नवरात्रि स्पेशल 2021

नवरात्रि स्पेशल 2021 : नवरात्री {दुर्गा पूजा} क्यों मनाते है।

नवरात्रि स्पेशल 2021, नवरात्रि पूजा क्यों की जाती है, नवरात्रि क्यों मनाते हैं, नवरात्रि पूजा 2021 शुभ महर्त, नवरात्रि दुर्गा पूजा का शुभ मुहूर्त 2021,

यह चैत्र शुक्ल की प्रतिभा से लेकर महानवमी तक मनाया जाता है इन दिनों भगवती दुर्गा तथा कन्या पूजन का विधान है। प्रतिवाद के दिन घट स्थापना एवं जौ बोने की प्रक्रिया की जाती है 2 दिन तक ब्राह्मण द्वारा या स्वय देवी भगवती दुर्गा का पाठ करने का विधान है।
हर त्यौहार को मनाने के पीछे कोई ना कोई कारण जरूर होता है ठीक उसी प्रकार नवरात्रा मनाने के पीछे भी कुछ ऐसी ही कथा है जिसके माध्यम से नवरात्रा की पूजा अर्चना पूरे 9 दिनों तक की जाती है। नवरात्रि मनाने के पीछे भी कुछ ऐसी ही घटनाएं इसके माध्यम से बहुत दिनों तक अलग-अलग देवी की पूजा की जाती है।

नवरात्रि की कथा

आइए जाने की नवरात्रा के पीछे की कथा महिषासुर नामक राक्षस का वध करने के लिए मां दुर्गा और महिषासुर के बीच 9 दिनों तक संघर्ष चला। लेकिन देवताओं के द्वारा महिषासुर को अजय होने का वरदान लिए गया था। लेकिन देवताओं ने महिषासुर को यह वरदान देकर अन्याय को चुनौती दी। क्योंकि महिषासुर अपनी देवताओं के द्वारा दी गई । शक्तियों का गलत इस्तेमाल करता था। जिसकी वजह से महिषासुर ने देवताओं को अपने अधिकार में ले लिया था लेकिन सभी देवताओं ने भी हार नहीं मानी थे उन्होंने महिषासुर का विनाश करने के लिए अपने सारे अस्त्र-शस्त्र मां दुर्गा को दे दिए थे। कहा जाता है कि देवताओं के इन सभी प्रयासों से मां दुर्गा और भी ज्यादा शक्तिशाली हो गई। जिसके कारण मां दुर्गा महिषासुर नामक राक्षस का वध करने में सफल हो गई इसके लिए मां दुर्गा को पूरे 9 दिनों तक महासंग्राम का सामना करना पड़ा और महिषासुर का वध किया गया तब से लेकर आज तक 9 दिनों को अलग अलग देवी के रूप में पूजा की जाती है और नवरात्रि क्यों मनाया जाता है।

आइए जाने नौ देवियों के नाम

शैलपुत्री ___ इसका अर्थ (पहाड़ों की पुत्री)
ब्रह्मचारिणी ___इसका अर्थ (ब्रह्मचारिणी)
चंद्रघंटा___इसका अर्थ (चांद की तरह चमकने वाली)
कुष्मांडा___इसका अर्थ(पूरा जगत उनके पैर में है)
स्कदमाता__इसका अर्थ (कार्तिक स्वामी की माता)
कात्यायनी__इसका अर्थ (कात्यायन आश्रम में जन्मी)
कालरात्रि__इसका अर्थ(काल का नाश करने वाली)
महागौरी__इसका अर्थ (सफेद रंग वाली मां)
सिद्धि रात्रि__इसका अर्थ (सर्वसिद्धि देने वाली)

Leave a Comment

You cannot copy content of this page