Kya khana Chihiye

कैंसर के रोगी को किन भोज्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए ?

Join Telegram Channel Now

कैंसर रोगी का आहार : दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में कैंसर के रोगी को किस प्रकार का आहार लेना चाहिए इसके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

किसी भी बीमारी के होने के  बहुत से कारण होते हैं। कैंसर शरीर के विभिन्न भागों में होता है। उन्हीं में स्तन एक कैंसर एक बहुत ही गंभीर बीमारी  है । इस प्रकार के कैंसर में व्यक्ति के शरीर में कोशिकाओं की अभिवृद्धि नियंत्रण से बाहर हो जाती है। ऐसे शारीरिक परिवर्तन को स्तन कैंसर कहते हैं ।इस प्रकार के कैंसर से पीड़ित व्यक्ति शरीर की कोशिकाओं में एक गांठ बनती है ।जिसे ट्यूमर कहा जाता है । ब्रेस्ट कैंसर बीमारी होने के पीछे मूल रूप से हमारी गलत खाने-पीने की आदतें ,एवं अपनी दिनचर्या में योग को शामिल ना करना है। ब्रेस्ट कैंसर एक प्राणघातक रोग है ।यदि सही समय पर खानपान में बदलाव नहीं किया तो भविष्य में यह बीमारी रोगी  को मौत की नींद सुला देता है । ब्रेस्ट कैंसर के रोगी के लिए यह परम आवश्यक है ,कि जितनी जल्दी हो सके, वह खाने-पीने की आदतों  में सुधार लाएं एवं दिनचर्या में योग को भी शामिल करें। ऐसा करने से व्यक्ति शीघ्र अति शीघ्र बीमारी को मात दे देता है।

कैंसर के रोगी को किन भोज्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए ?

1) हल्दी में बैक्टीरिया को मात देने की गुण पाए जाते हैं।कैंसर के खतरे को भी कम करने में काफी कारगर है ।यदि कैंसर रोगी नियमित रूप से एक गिलास दूध में एक चम्मच हल्दी को मिलाकर पिए ,तो इससे उसको  स्वास्थ्य लाभ होगा।

2) कैंसर के रोगी के लिए अलसी के बीज सर्वाधिक लाभकारी होता है ।अलसी के बीज को कैंसर के रोगी को दूध के साथ सेवन करना चाहिए ।  यह कैंसर के रोगी को काफी हद तक राहत पहुंचाने का कार्य करता है।

3) वैसे तो फलों का सेवन बेहद ही लाभकारी होता है लेकिन कैंसर के से पीड़ित व्यक्ति को गिने-चुने फलों का सेवन करने से लाभ मिलता है। जैसे कि अंगूर के सेवन से ब्रेस्ट कैंसर का खतरा पहले के अपेक्षा कुछ कम होता है।

4) कैंसर के रोगी के लिए लहसुन का सेवन बेहद ही फायदेमंद साबित होता है। लहसुन में कई तरह के तत्व विद्यमान होते हैं। जो कैंसर के रोगी को केवल आराम ही नहीं अपितु इसमें नियंत्रण करने में भी काफी मदद मिलती है ।आप इसका सेवन एक चम्मच लहसुन का रस एक गिलास पानी में मिलाकर पिएं।

5) कैंसर के रोगी को अधिक से अधिक फाइबर से युक्त भोज्य पदार्थों को आहार स्वरूप लेना चाहिए फाइबर रोगी के शरीर से अनुपयोगी एवं घातक अपशिष्ट पदार्थों को स्वतः खत्म करने मैं काफी मददगार है ।साइबर शरीर में एस्ट्रोजन हटाने का कार्य करता है ,क्योंकि इससे कैंसर के रोगी को खतरा होता है।

6) कैंसर के रोगी को  शाकाहारी भोजन की ओर अभि- प्रेरित होना चाहिए क्योंकि शाकाहारी भोजन कैंसर के रोगी को 15% खतरे को कम करता है। साथ ही  कैंसर कोशिकाओं को विकसित होने से भी रोकता है।

7) ब्रेस्ट कैंसर के रोगी को भोज्य पदार्थों में अत्यधिक वसा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। यह स्तन कैंसर खतरा और भी बढ़ा देता है। शरीर को विभिन्न तरह के अच्छे फैट की जरूरत होती है ।अच्छे फैट में ओमेगा 3 में प्रचुर मात्रा कद्दू के बीज, अखरोट एवं फ्लेक्ससीड में विद्यमान है ।

यह भी पढ़ें :- बवासीर रोगी का आहार : बवासीर में किन भोज्य पदार्थों  को खाना चाहिए ?

स्तन कैंसर के रोगी को किन भोज्य पदार्थों से दूरी बना लेनी चाहिए ?

1) कैंसर जैसी भयावह बीमारी शरीर में होने का एक कारण रेड मीट भी है ।रेड मीट का सेवन करने वाले व्यक्ति को कैंसर होने के सर्वाधिक आसार होते है। यह ब्रेस्ट कैंसर ही नहीं बल्कि बड़ी आत के कैंसर होने की भी वजह है ।कैंसर विशेषज्ञ के अनुसार सप्ताह में 300 ग्राम से ज्यादा मीट को खाना उचित नहीं है ।रेड मीट मैंने नमक का उपयोग सर्वाधिक होता है। इसके अलावा फैट की मात्रा भी बहुत अधिक होती है।

2) ब्रेस्ट कैंसर के रोगी को किसी भी प्रकार का नशा नहीं करना चाहिए इसमें शराब भी शामिल है या रोगी के लिए हानिकारक है

3) कैंसर रोगी के लिए यह बेहद जरूरी है, कि वह अपने वजन को नियंत्रित करें ,मोटापा रोगी के लिए खतरनाक है ।ब्रेस्ट कैंसर के रोगी को तली एवं भुनी खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।

4) चीनी का अधिक सेवन करने से स्तन के ट्यूमर ग्लैंड अतिशीघ्र वृद्धि करते हैं ।और ट्यूमर ही कैंसर के रूप में उभर कर आते हैं, इसलिए चीनी का कम से कम सेवन करना चाहिए

 

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment