Corona Virus Health Tips Trending News

कोरोना वायरस क्या गर्मी से मर जाता है

कोरोना वायरस क्या गर्मी से मर जाता है

कोरोना वायरस (COVID-19) के शुरूआती लक्षण, बचाव कैसे करें, कोरोना वायरस के बारें में पाए पूरी जानकारी,कोरोना वायरस का पता चलने पर क्या करें ,कोरोना वायरस से आप अपनी रक्षा कैसे करें , क्या गर्मी बढ़ने से खत्म हो जाएगा कोरोना, कोरोना वायरस क्या गर्मी से मर जाता है, क्या गर्म मौसम में कम होगा,

क्या है कोरोना वायरस:- कोरोना वायरस का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है. इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था. डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं. अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है|

कोरोना वायरस कैसे फैलता है , corona virus kaise failta hai

गर्मी से कितना प्रभाव पड़ेगा :- कोरोनावायरस सूखी सतहों पर 8-10 दिनों के लिए सक्रिय रह सकता है आमतौर पर सभी वायरस गर्मी बढ़ने पर निष्क्रिय या नष्ट हो जाते हैं, लेकिन कोरोनावायरस (Coronavirus) 37 डिग्री सेल्सियस पर मानव शरीर में जीवित रहता है, तो अभी तक COVID-19 को निष्क्रिय करने के लिए सटीक तापमान का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है |
वायरस अब 110 देशों में फैल गया है जिसका अभी तक कोई टीका या इलाज नहीं है. डॉ. लक्ष्मण जेसानी, सलाहकार, संक्रामक रोग, अपोलो अस्पताल, नवी मुंबई का कहना है कि ऐसा अनुमान लगाया गया है कि बढ़ा हुआ तापमान वायरस को मार सकता है और गर्मी की शुरुआत में वायरस के प्रसार में भी कमी आ सकती है हालांकि, वैज्ञानिकों के पास COVID-19 पर गर्मियों के तापमान के प्रभाव पर कोई निश्चित जवाब नहीं है ज्यादातर एक्सपर्ट्स ने इससे बचने के लिए सावधानियां बरतने की सलाह दी, तो कुछ ने गर्मी से कोरोना वायरस के प्रभाव (Coronavirus Outbreak) के बारे में कहा कि जिन देशों में गर्मी ज्यादा है वहां भी कोरोना वायरस का प्रकोप देखने को मिल रहा है ऐसे में इस वायरस के बारे में ज्यादा कुछ अभी कहा नहीं जा सकता है |
1.) यह भी कहा जा रहा है कि कोरोना वायरस गर्मी बर्दाश्त नहीं कर सकता, इसलिए भारत जैसे देश में जैसे ही मामला मार्च पार होगा यह वायरस खत्म हो जाएगा. लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि यह सोचकर भुलावे में रहने की जरूरत नहीं है कोरोना वायरस उन देशों में भी फैल रहा है जहां का मौसम गर्मी और उमस भरा है |
2.) विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने खुलासा किया है कि अब तक मौजूद परिस्थितियों का आकलन करने से ये दावा सही नहीं लगता है। कोरोना वायरस किसी भी जगह पर फैल सकता है, चाहे वहां का मौसम गर्म हो या उमस भरा। अभी ऐसा न तो कोई अध्ययन है और न ही कोई तथ्य है, जिसके आधार पर ये अनुमान लगाया जा सके कि गर्म मौसम या उमस भरे मौसम में ये वायरस स्वत खत्म हो जाएगा। मतलब सोशल मीडिया पर किए जा रहे इस तरह के दावों का कोई वैज्ञानिक आधार फिलहाल मौजूद नहीं है।
3.) कोरोना वायरस 60 से 70 डिग्री सेल्सियस के तापमान तक नष्ट नहीं हो सकता उतना तापमान ना तो भारत में है और ना किसी के शरीर के भातर कुछ वायरस तापमान बढ़ने के बाद नष्ट होते हैं लेकिन कोरोना वायरस पर बढ़ते तापमान का क्या असर होगा |
4.) इसके बारे में ब्रितानी डॉक्टर सारा जार्विस कहती हैं कि 2002 के नवंबर में सार्स महामारी शुरू हुई थी जो जुलाई में खत्म हो गई थी लेकिन ये तापमान बदलने की वजह से हुआ या किसी और वजह से ये बताना मुश्किल है |
5.) वायरस पर शोध करने वाले डॉक्टर परेश देशपांडे का कहना है कि अगर कोई भरी गर्मी में छींका तो थूक के डॉपलेट सतह पर गिर कर जल्दी सूख सकते हैं और कोरोना फैसले का संक्रमण कम हो सकता है |
6.) हम जानते हैं कि फ्लू वायरस गर्मियों के दौरान शरीर के बाहर नहीं रह पाते लेकिन हमें इस बारे में नहीं पता कि कोरोना वायरस पर गर्मी का क्या असर पड़ता है तो कहा जा सकता है कि गर्मी में कोरोना नष्ट होगा इसका कोई ठोस सबूत नहीं है तापमान के भरोसे मत बैठिए |
7.) कोरोनावायरस दुनिया भर में 168 देशों में फैल चुका है जिनमें ग्रीनलैंड जैसे ठंडे देश भी है तो दुबई जैसे गर्म शहर भी, मुंबई जैसे ह्यूमिड शहर भी हैं |

कोरोना वायरस के लक्षण
कोरोना वायरस कैसे फैलता है
कोरोना वायरस के बचाव

Leave a Comment

You cannot copy content of this page