Fruits

एल्डरबेर्रीज खाने के फायदे और एल्डरबेर्रीज खाने का उचित समय

एल्डरबेर्रीज खाने के फायदे : दोस्तों आज हम आपको एल्डरबेर्रीज खाने के फायदे के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें

एल्डरबेर्रीज खाने के फायदे और एल्डरबेर्रीज खाने का उचित समय

शरीर के लिए वनस्पति औषधि सबसे ज्यादा फायदेमंद होती है। वनस्पति से प्राप्त फल और वनस्पति से प्राप्त कई प्रकार की औषधियां शरीर को बेहद फायदा पहुंचाते हैं। एल्डरबेर्रीज के सेवन से शरीर को कई प्रकार से फायदा होता है। एल्डरबेर्रीज के पेड़ के फूल व पत्तियां दोनों औषधि के रूप में काम में लिए जाते हैं। क्योंकि एल्डरबेर्रीज के फूल में कैरोटीन टैनिक और पैराफिन जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। एल्डरबेर्रीज फल के सेवन से शरीर को कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व प्रदान होते हैं। एल्डरबेर्रीज फल में कई प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से एल्डरबेर्रीज फल के खाने के फायदे और एल्डरबेर्रीज फल के सेवन का उचित समय क्या है, इसके बारे में जिक्र करेंगे।

एल्डरबेर्रीज खाने के फायदे

1. इस फल के सेवन से इन्फ्लूएंजा जैसी घातक बीमारी से राहत मिलती है।इस फल में एंटी ऑक्सीडेंट तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। जो इनफ्लुएंजा बीमारी से लड़ने की क्षमता देते हैं।

2. एल्डरबेर्रीज पेड़ के फूल व पत्तियां औषधि के रूप में काम में ली जाती है। इस पौधे के फूल में कैरोटीन टैनिन व पैराफिन तत्व अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। जो एक प्रकार की औषधीय तत्व है। इन तत्वों का उपयोग कई प्रकार की औषधियां बनाने में किया जाता है।

3. एल्डरबेर्रीज पेड़ की छाल और पत्तियों से फंगल इन्फेक्शन को दूर करने के लिए कई प्रकार की दवा या बनाई जाती है। इसके अलावा प्राचीन मिस्र में लोग इसके पौधे की पत्तियों का उपयोग त्वचा में निखार लाने और त्वचा में लगे घाव को भरने के लिए करते हैं। इस फल के पौधे का उपयोग अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग तौर पर किया जाता है।यह पौधा शरीर के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद है।

4. इस पौधे का वानस्पतिक नाम सैम्बूकस हैं।

5. एल्डरबेर्रीज फल के नियमित रूप से सेवन से सिर दर्द जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है। सिर्फ से छुटकारा पाने के लिए इस फल का नियमित रूप से सेवन करें। इस फल का नियमित सेवन करने से शरीर के मस्तिष्क की मांसपेशियां मजबूत होती है और सिरदर्द जैसी समस्या से राहत मिलती हैं।

6.

एल्डरबेर्रीज फल का सेवन करने से हृदय तथा दांत संबंधित बीमारियों से छुटकारा मिलता है। इस फल के सेवन से दांत मजबूत होते हैं और मसूड़ों की मांसपेशियां मजबूत होकर मसूड़ों के दर्द को दूर करते हैं। इसके अलावा हृदय संबंधित बीमारियों को नियंत्रित करने के लिए शरीर को नियंत्रित रखता है। जो हृदय संबंधित बीमारियां से छुटकारा दिलाने में सहायक है।

7. यह फल एंटीऑक्सीडेंट तत्वों से भरपूर होता है जो सर्दी जुकाम को दूर करने के लिए रामबाण उपाय माना जाता है। इसके अलावा यह प्रतिरक्षा सिस्टम को मजबूत करता है। इस फल के निरंतर सेवन से शरीर में कई प्रकार के रोगों से लड़ने की क्षमता उत्पन्न होती है।

8. एल्डरबेर्रीज फल के सेवन से कानों के दर्द पैरों में दर्द जैसी समस्या से राहत मिलती है। पैरों में दर्द के लिए या फल रामबाण उपाय माना जाता है। क्योंकि यह फल जिसका सेवन करने से शरीर को फास्फोरस और कैल्शियम मिलता है। अतः शरीर की मांसपेशियां मजबूत होती है और पैरों के दर्द से छुटकारा मिलता है।

9. स्किन के लिए एल्डरबेर्रीज पौधे की पत्तियां काफी गुणकारी मारी जाती है। इस पौधों की पत्तियों का लेप बनाकर त्वचा पर लगाने से कई प्रकार की दाद खुजली से छुटकारा मिलता है। इसके साथ ही त्वचा में निखार आता है।

10. एल्डरबेर्रीज फल के निरंतर सेवन से शरीर की पाचन क्रिया संतुलित जाती है क्योंकि इस फल में फाइबर अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है। जो पाचन क्रिया को संतुलित रख के कब्ज जैसी समस्या से छुटकारा दिलाने में सहायक है।

11. एल्डरबेर्रीज फल के नियमित रूप से सेवन से शरीर में जोड़ों के दर्द जैसी समस्या दूर होती है क्योंकि इस फल में कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता है। जो शरीर में कैल्शियम की पूर्ति कर के जोड़ों के दर्द से राहत दिलाता है। साथ ही हड्डियों को मजबूत करने में सहायक है।

यह भी पढ़े :- फेजोआ खाने के फायदे और फेजोआ खाने का उचित

एल्डरबेर्रीज खाने का उचित समय

इस पौधे के फल के साथ-साथ फूल और पत्तियां भी औषधीय उपचार के लिए महत्वपूर्ण मानी जाती है। इसके लिए फूल और पत्तियों का औषधि उपचार आप जरूरत के हिसाब से कर सकते हैं। लेकिन इस फल का सेवन आप दोपहर के खाने में करें। दोपहर के खाने में एल्डरबेर्रीज फल का सेवन करना उचित माना जाता है।

Leave a Comment