Health Tips Upchar

हर्बल शैंपू क्या है और जानिए इसके फायदे

हर्बल शैंपू क्या है और आज आपको सुबह शैंपू के फायदे के बारे में विस्तार से बताएंगे इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें यह आर्टिकल आपके लिए बहुत हेल्पफुल होने वाला हैअयूर शैम्पू के फायदे आयुर्वेदिक शैम्पू बनाने की विधि त्रिचुप शैम्पू के फायदे बालों के लिए सबसे अच्छा शैंपू कौन सा है बेस्ट हर्बल शैम्पू फॉर हेयर फॉलहर्बल शैम्पू के नाम बेस्ट आयुर्वेदिक शैम्पू वाटिका शैम्पू के फायदे

 हर्बल शैंपू क्या है और जानिए इसके फायदे

बालों के सौंदर्य को बढ़ाने के लिए एवं उसके वृद्धि के लिए आमतौर पर हम शैंपू का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि आज के समय में शैंपू केमिकल से युक्त होते हैं ।जो कहीं ना कहीं हमारे बालों को क्षति पहुंचाते हैं। इसलिए शैंपू का चुनाव करते समय हर्बल शैंपू ही चुने क्योंकि  यह बालों की वृद्धि एवं स्वास्थ्य दोनों के लिए फायदेमंद होगा ।

आजकल बालों को सुंदर चमकदार एवं घना रखने के लिए शैंपू के साथ ही कंडीशनर का प्रयोग किया जा रहा है। वस्तुतः दोनों का प्रयोग बालों में जान डालना एवं बाल की से संबंधित व्याधियों से निजात पाना है ।हालांकि शैंपू एवं कंडीशनर दोनों का प्रयोग भिन्नता पाई जाती है

शैंपू का इस्तेमाल बालों को स्वच्छ रखना सामान्य तौर पर जब हम बाहर जाते है । व्यक्ति के बालों में धूल, मिट्टी, आयल के साथ ही डैंड्रफ की समस्या उत्पन्न हो जाती है ।जिससे निपटने के लिए शैंपू का का प्रयोग किया जाता है ।वही कंडीशनर का प्रयोग बालों में चमक एवं 

मस्चुराइजेस्शन  लाने लिए किया जाता है।

अक्सर देखा गया है ,कि नियमित तौर पर शैंपू का इस्तेमाल करने से बालों की चमक पहले की अपेक्षा कम हो जाती है ।ऐसे में कंडीशनर को लगाने से  बालों पोषण प्रदान प्राप्त होता  है ।जिससे कि उसमें पुनः चमक लौट आती है।

 

शैंपू की बात करें तो इसे व्यक्ति स्कैल्प एवं बालू दोनों में लगा सकता है ।जबकि कंडीशनर को मात्र बालों में लगाया जाता है ।ना कि स्कैल्प मैं लगाया जाता है।

 

व्यक्ति को शैंपू लगाने के दौरान पानी से बालों को धोने की आवश्यकता होती है। वही कंडीशनर को लगाने के उपरांत यह आप पर निर्भर करता है ,कि आप बालों को धोना  चाहते हैं ,या इसे लगा कर छोड़ना चाहते हैं।दोनों ही विकल्प व्यक्ति के पास होते हैं।

 

शैंपू और साबुन समानता पाई जाती है, क्योंकि दोनों का निर्माण एक ही प्रकार की वस्तुओं का उपयोग किया जाता है ।इसमें अम्ल पाए जाते हैं। वहीं दूसरी ओर कंडीशनर में मस्चुराइज होने के साथ ही ग्लोसेर पाया जाता है। जो शैंपू के तुलना में कहीं अधिक अम्लीय होते हैं।

यह भी पढें :- गैस की समस्या एक आम समस्या है

शैंपू और कंडीशनर में अंतर

यह शैंपू को अथवा कंडीशनर दोनों का चुनाव करते समय व्यक्ति को एक बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए की दोनों में ही रसायन का अधिक समावेश ना हो क्योंकि या बालों की स्वास्थ्य के लिए हानी कर होते हैं ऐसे में हर्बल अप्राकृतिक निर्मित शैंपू वालों के स्वास्थ्य के लिए अच्छे माने जाते हैं सामान्य तौर पर लोग आंवला के साथ शिकाकाई के अतिरिक्त अन्य जड़ी बूटियों का प्रयोग करते हैं यही नहीं बहुत से संसद ऐसे होते हैं जो बालों को साफ करने के साथ ही आवश्यक मस्चुराइज भी प्रदान करते हैं।

 

दोस्तों शैंपू और कंडीशनर दरअसल दोनों में विटामिन के साथ ही पोषक तत्व पाए जाते हैं। शैंपू में विशेष तौर पर विटामिन और पोषक तत्व बाल के साथ ही सिर की जड़ों को एक सुरक्षित आवरण की तरह कार्य करती है। वही कंडीशनर में पाया जाने वाला पोषक तत्व एवं विटामिन मात्र बालों को सुरक्षा प्रदान करता है।

 

Leave a Comment