Kya khana Chihiye

खांसी की शिकायत होने पर व्यक्ति को क्या खाना चाहिए

खांसी की शिकायत होने पर व्यक्ति को क्या खाना चाहिए

खांसी की शिकायत : दोस्तों आज हम आपको  खांसी की शिकायत से कैसे निजात पाएं। उसके बारे में विस्तार से बताएंगे, इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

खांसी आना अपने आप में कोई बड़ी व्याधि नहीं है ,शरीर में खांसी -जुखाम एक रक्षात्मक प्रणाली के तहत कार्य करते हैं। व्यक्ति को खांसी होने पर स्वसन के माध्यम से बलगम धूल एवं धुएं आदि को शरीर से निष्कासित करने का कार्य करते हैं ।खांसी के उपरांत शरीर पूर्णता स्वच्छ  हो जाता है। यह एक आकस्मिक स्वतः सुचारू क्रिया है ।जो कहीं ना कहीं आपके शरीर की सफाई का कार्य करती है ।आपको इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए, खासी में व्यक्ति को पीड़ा की अनुभूति होती है। इसके अतिरिक्त खांसी से व्यक्ति को गले में  दर्द कि शिकायत इसके अतिरिक्त कभी-कभी जलन की भी समस्या उभर कर आती है। खैर कोई भी व्याधि छोटी हो या बड़ी सभी में बहुत ही नियम एवं संयम रखकर उसे ठीक किया जा सकता है ।खासी से ग्रसित व्यक्ति को एक   यह भी चिंता सताती है , कि इस समस्या में उसका खान-पान कैसा हो, जिससे कि  वह जल्द से जल्द ठीक हो जाए।

यह भी पढ़ें :- सर्वाइकल कैंसर से पीड़ित रोगी को क्या खाना चाहिए

खांसी की शिकायत होने पर व्यक्ति को क्या खाना चाहिए

1) खांसी की गिरफ्त में आए रोगी को अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए ,और इस बात का विशेष तौर पर ध्यान रखें, कि प्रत्येक दो  घंटे के अंतराल में कम से कम एक से दो ग्लास पानी पीते रहे ।

2) खांसी से पीड़ित व्यक्ति को कच्चा लहसुन का सेवन बेहद ही फायदेमंद होता है, क्योंकि लहसुन मेंअलीसिन नाम का यौगिक पाया जाता है ,जो रोगी की श्वास से संक्रमित करने वाले जीवाणु के खात्मे में काफी कारगर हैं।

3) रोगी की खांसी आने का एकमात्र कारण श्वसन में संक्रमित करने वाले जीवाणु होते हैं। कच्चे लहसुन में संक्रमित रोगाणु को खत्म करने के गुण होते हैं।

4) खांसी से पीड़ित अदरक की चाय पीना चाहिए, इसे पीने से रोगी की प्रतिरोध प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है ।इसमें  संक्रामक जीवाणु को  खत्म करने के गुण होते है ।

5) विटामिन सी खांसी के रोगी के लिए बेहद ही कारगर उपाय है। विटामिन सी के सेवन से रोगी की प्रतिरोधक क्षमता एवं रक्त वाहिकाएं  सुदृढ़ होती है। वाहिकाओं का   शरीर एक मुख्य भूमिका  होती है।  रोगी को खांसी में भी राहत मिलती है फल और सब्जियों में आंवला, संतरा और चुकंदर को अवश्य शामिल करें।

6) खांसी में शहद का सेवन बेहद ही लाभकारी है ।यह संक्रमित जीवाणुओं को नष्ट करने में सक्षम है। इसके साथ ही यह सर्दी में भी रोगी को आराम पहुंचाता है। शहद के सेवन से रोगी को जलन एवं सूजन दोनों में सुधार होता है। इसके अतिरिक्त शहर में एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं। जो व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक  क्षमता को मजबूत करते हैं। साथ ही इसे खाने से एक अच्छी नींद भी आती है।

 

खांसी से पीड़ित व्यक्ति को किन भोज्य पदार्थों से दूरी बना लेनी चाहिए ?

1) खांसी से पीड़ित व्यक्ति को दूध के सेवन तुरंत बंद कर देना चाहिए, क्योंकि इससे रोगी को कफ की समस्या बढ़ जाती है। डेयरी में बने सभी उत्पाद एवं दूध खांसी के दौरान श्वसन नली फेफड़ों एवं गले में बलगम को बढ़ा देने में सहायक है ।

2) खांसी से पीड़ित व्यक्ति को सर्वाधिक मात्रा में पानी पीना चाहिए। जिससे रोगी के गले में नमी बनी रहे भोजन के दौरान रोगी को भोजन को निगलने में भी कठिनाई का सामना ना करना पड़े,साथ ही इस बात का अवश्य ध्यान रखें की चाय ,कॉफी एवं कैफीन के  अत्यधिक सेवन खांसी की समस्या को केवल बढ़ाने का कार्य करता  है।

3) वैसे तो नशा सभी रोगों के लिए खराब माना जाता है ।उसके साथ ही किसी भी चीज की अत्यधिक लत भी नुकसानदायक है । जैसे कि खांसी से पीड़ित व्यक्ति को सिगरेट का सेवन तत्काल रुप से छोड़ देना चाहिए ।क्योंकि इससे रोगी के गले में जलन होने लगती है, साथ ही यह व्यक्ति की खांसी को जड़ से खत्म करने में भी बाधा बनता है।

4) खांसी की शिकायत होने पर रोगी को  रात में अल्प भोजन करना चाहिए ,क्योंकि अत्यधिक भोजन लेने से एसिड भाटा रोग के चपेट में व्यक्ति आ जाता है। और इससे भी अच्छा होगा ,कि व्यक्ति अपने सोने के 3 घंटे पहले ही भोजन कर ले

5) खांसी की चपेट में आए रोगी उन भोज्य पदार्थों को खाने से बचना चाहिए ,जिसमें बहुत अधिक तेल का प्रयोग किया गया हो ,यह व्यक्ति की खांसी को और बढ़ा देने में सहायक  है ।इसके अतिरिक्त रोगी को ऐसे भोजन को खाते ही शरीर भारी लगने  लगता है ।

 

Leave a Comment