Fruits

खुबानी फल के फायदे व खुबानी फल खाने का उचित समय

Join Telegram Channel Now
खुबानी का नाम विश्व भर में लोकप्रिय है। खुबानी खूबसूरत आकार में स्वाद में मीठा होता है। यह एक रसदार और सुगंधित फल है। इस फल का उपयोग बहुत ज्यादा किया जाता है। इस फल को कच्चा भी खाया जाता है। इस फल का उपयोग हजारों लोग अपने दैनिक जीवन में कर रहे हैं। क्योंकि यह फल स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में बहुत ही मददगार है। इस फल में विटामिन ए, सी और पोटैशियम मैग्निशियम, कैलशियम तथा फाइबर अत्यधिक मात्रा में उपस्थित होते हैं। जो शरीर के लिए कई तरह से कारगर साबित हुए हैं। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से खुबानी फल के फायदे और खुबानी फल को खाने का उचित समय  , खुबानी खाने का सही तरीका , खुबानी के बीज के फायदे , खुबानी फल का दूसरा नाम , खुबानी का अर्थ , खुबानी का पेड़ , खुबानी meaning , Apricot in Hindi , Apricot benefits in hindi  के बारे में बात करेंगे।
क्या है खुबानी:-  यह एक पौष्टिक फल है। यह फल स्वाद में मीठा और रसदार है। यह फल अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग रूप से खाया जाता है। मध्य पूर्वी देशों में बात की जाए तो खुबानी का प्रयोग व्यंजनों के स्वाद बढ़ाने में किया जाता है। सूखी खुबानी को मांस और मसालों के साथ पकाकर खाया जाता है। भारतीय मसालेदार व्यंजनों के साथ खुबानी की चटनी बनाकर खाई जाती है।
आज से करीब 4 साल हजार पहले खुबानी फल की खेती चीन में कई की की गई थी। वहां से इस फल का दूसरों देशों में भी होने लगा। धीरे-धीरे फल पूरे विश्व में पहुंच गया। उसके बाद यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में भी खुबानी फल की खेती शुरू हो गई।
खुबानी के फायदे:-  खुबानी फल खाने से कई प्रकार के शरीर को फायदे होते हैं। जो नीचे निम्नलिखित रुप से दिए गए हैं।
1. खुबानी फल में फाइबर अत्यधिक मात्रा में उपस्थित होते हैं। शरीर की पाचन शक्ति बेहतर बनी रहती है। साथ ही पाचन तंत्र संतुलित रहता है। पाचन तंत्र से संबंधित जुड़ी बीमारियां जैसे :- कब्ज इत्यादि से छुटकारा मिलता है।
2. इस फल के निरंतर सेवन से आंखों की दृष्टि में भी सुधार आता है।  इस फल में विटामिन सी और बीटा कैरोटीन पाया जाता है।  जो आंखों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद था तो माने जाते हैं। इसके साथ ही फैटी एसिड भी खुबानी में उपस्थित होता है। जो रेटिना की मांसपेशियों को मजबूत करके आंखों की रोशनी को तेज करने में सहायक है।
3. खुबानी फल के सेवन करने से वजन घटाने में मदद मिलती है। कई लोग मोटापे से परेशान होते हैं। ऐसे में उन्हें खुबानी फल का नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। खुबानी फल में उपस्थित बल्किंग एजेंट जो पाचन तंत्र को संतुलित रखते हैं। साथ ही शरीर की श्वेत ग्रंथियों को उजागर करते हैं। श्वेत ग्रंथियों के जरिए शरीर से पसीना निरंतर बाहर निकलता रहता है और मोटापा कम होने में काफी ज्यादा मदद मिलती है।
4. खुबानी फल हृदय रोगियों के लिए भी काफी मददगार फल माना जाता है। इस फल में उपस्थित फाइबर जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित रखते हैं। जब कोलेस्ट्रॉल लेवल नियमित रहता है,तो रक्तचाप दर भी संतुलित रहती है। इसके अलावा खुबानी फल में पोटेशियम की मात्रा उपस्थित होती है। जिससे शरीर के इलेक्ट्रोलाइट स्तर संतुलित रहते हैं और हृदय की मांसपेशियां व्यवस्थित रहती है।
5. एनीमिया जो शरीर के लिए घातक बीमारी है। एनीमिया बीमारी होने के पश्चात इस बीमारी में खून की कमी होती है। खून की लाल रक्त कोशिकाएं कम होने के कारण कई प्रकार के रोग जैसे थकान त्वचा का पीलापन सांस लेने में तकलीफ यदि समस्या उत्पन्न होती है। लेकिन एनीमिया से ग्रस्त रोगियों को खुबानी के फल का सेवन करने पर उन्हें आयरन की भरपूर मात्रा मिलती है। साथ ही कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी प्राप्त होते हैं। जिनसे लाल रक्त कणिकाओं में बढ़ोतरी होती है और एनीमिया जैसी बीमारी से छुटकारा मिलता है।
6. मधुमेह रोगियों के लिए यह फल बहुत ही कारगर साबित हुआ है। क्योंकि इस फल में प्राकृतिक विकास होता है। जो मधुमेह रोगियों के शुगर लेवल को कंट्रोल रखता है।
खुबानी फल खाने का उचित समय:-  खुबानी फल के सेवन करने का उचित समय सुबह नाश्ते के समय को माना जाता है। सुबह नाश्ते में आपको खुबानी फल का सेवन करते हैं, तो आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होगा। शाम के समय खुबानी फल के सेवन करने पर कई प्रकार की दिक्कतें उत्पन्न हो सकती है। खुबानी फल का सेवन आप सुबह नाश्ते में दूध  के साथ भी कर सकते हैं।
Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment