जाने यूरिया का छिड़काव करने की नए तकनीक के बारे में पूरी जानकारी

 Join WhatsApp Group
 Join Telegram Channel

जाने यूरिया का छिड़काव करने की नए तकनीक के बारे में पूरी जानकारी:हमारा देश कृषि प्रधान देश माना जाता है और बड़े पैमाने पर कृषि फलों का उत्पादन होता है और अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र का बहुत बड़ा योगदान है ऐसे में भारत में कई राज्य में विभिन्न प्रकार की कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है जिसके तहत दानेदार  नैनो यूरिया को के रासायनिक खाद के विकल्प के तौर पर किसान उपयोग करते हैं आपको बता दें यूरिया का दानेदार यूरिया खाद सबसे महंगा होता है और किसानों को यूरिया कम कीमत पर मिले इसके लिए सरकार किसानों की मदद के लिए कई तरह की सब्सिडी प्रदान करती है वैसे 45 किलोग्राम भर्ती वाली दानेदार यूरिया की कीमत आज मार्केट में 260 रूपये प्रति बोरी मिलती है जिनमें 30% तक पौधों को दिया जाता है आज के इस लेख में हम आपको यूरिया का छिड़काव करने की नई तकनीक के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी बताएंगे 

जाने नैनो यूरिया तरल के बारे में पूरी जानकारी | Nano Urea Liquid in Hindi 

  • जैसा कि आप जानते हैं अच्छी फसल के लिए नैनो यूरिया का छिड़काव करना किसानो के लिए बेहद जरुरी है और इससे किसान को अच्छी फसल होगी और जीवाणु कीटाणु रोगों से पौधों को आसानी से बचा सके । 
  • किसानों की मदद के लिए इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर कोऑपरेटिव लिमिटेड द्वारा नैनो यूरिया काे बहुत छोटे आकार में ज्यादा क्षमता के साथ तैयार  किया है 
  • जिससे किसानों को बड़ा फायदा होगा इसके प्रयोग से किसानों की लागत कम होगी और पैदावार ज्यादा होगी 
  • किसान और  नैनो यूरिया लिक्विड  का इस्तेमाल आसानी से कर सकते हैं और अपनी फसलों को अच्छी पैदावार के साथ भारी मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं 
  • इसके अलावा ड्रोन के माध्यम से भी इस यूरिया का छिड़काव आप कर सकते हैं इस नई तकनीकों का इस्तेमाल कर यूरिया का छिड़काव कर सकते है 

जाने कितनी कीमत में मिलता है नैनो-यूरिया | Nano Urea Price in Hindi 

  • जब से नैनो गया था नैनो यूरिया का इस्तेमाल किसान भाई करने लगे सबसे अलग हो सरकारी को द्वारा तैयार नैनो लिया पर स्वीट करके 40 हजार  करोड़ों के की बचत की उम्मीद की जा रही है 
  • रिपोर्ट के मुताबिक खाद में सरकार को एक बैग में 1000 रूपये से 1500  तक का उपदान देना पड़ रहा है  
  • हालांकि ने नैनो-यूरिया से किसान को काफी बड़ा फायदा होता है देश में सालाना लगभग310 लाख टन यूरिया की जरूरत पड़ती है 
  • और परी 50 लाख टन उर्वरक आयात करना पड़ता है किसानों को 41 किलो खाद का बैग 266.50 रूपये में मिलता है।

Conclusion:- दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने  नैनो यूरिया  के बारे में दिलचस्प और महत्वपूर्ण जानकारी दी हम उम्मीद करते हैं, कि आपको आज का यह आर्टिकल आवश्यक पसंद आया होगा, और आज के इस आर्टिकल से आपको अवश्य कुछ मदद मिली होगी। इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

 

 

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
Join WhatsApp Group Now

Leave a Comment

देखे राज्य सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना के बारे में, इस योजना में मिलेंगे बेटियों को आर्थिक लाभ