Computer Tips

डाटा क्या है और यह कितने प्रकार के होते हैं

Join Telegram Channel Now
डाटा क्या है
Written by Knowledge Tour

आपने अपने जीवन में डाटा का नाम अवश्य सुना होगा। आज के समय में टेक्नोलॉजी का उपयोग बढ़ता जा रहा है। और लोग मोबाइल कंप्यूटर इत्यादि डिजिटल उपकरण का उपयोग करना पसंद करते हैं। ऐसे उपकरणों में डाटा शब्द का एक महत्वपूर्ण वजूद होता है। ऐसा कहा जाए, तो डाटा कंप्यूटर या मोबाइल में उपस्थित सभी प्रकार की फाइल को कह सकते हैं। डाटा को दूसरे शब्दों में रिकॉर्ड भी कहा जाता है। डाटा सिर्फ एक कंप्यूटर से संबंधित नहीं है। देश में हर प्रकार के रिकॉर्ड जैसे स्कूल की संख्या,स्कूलों के स्थान, मरीजों की संख्या, अस्पतालों की संख्या, देश की आबादी यह सभी रिकॉर्ड जिसे डाटा कहते हैं। इन सभी चीजों को नेचुरल फॉर्म में ऑर्गेनाइज या स्ट्रक्चर करना डाटा कहलाता है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से डाटा क्या है इसके बारे में बात करेंगे। डाटा क्या है

डाटा क्या है:-  डाटा जिसको हम साधारण तरीके में एक information या इंट्रोडक्शन कह सकते हैं। यह एक प्रकार का रिकॉर्ड रूपांतरण है। किसी प्रकार के रिकॉर्ड को हम डाटा शब्द से उसका जिक्र कर सकते हैं। कम्युनिकेशन और प्रोसेसिंग के लिए इंसान को इलेक्ट्रॉनिक मशीन की आवश्यकता होती है। और इलेक्ट्रॉनिक मशीन में तैयार किए गए रिकॉर्ड को डाटा कहते हैं। डाटा को हम अलग अलग तरीके से परिभाषित कर सकते हैं।
डाटा अपने row फार्म मैं किसी का काम नहीं करता है। लेकिन उसी डाटा को अगर इंटरनेट के माध्यम से प्रोसेस किया जाता है। तब उसका सही मतलब सबके सामने आता है। जो सबके लिए काफी उपयोगी है और प्रोसेस्ड किया गया डाटा इंफॉर्मेशन के तौर पर सभी लोगों को दिखाया जाता है। इसीलिए प्रोफेशनल डाटा को इंफॉर्मेशन कहते हैं।
डाटा कितने प्रकार के होते हैं:-  कंप्यूटर सिस्टम में डाटा की बात की जाए तो डाटा को अलग अलग तरीके से परिभाषित किया जाता है। कंप्यूटर में स्टोर किए गए, ऑडियो इमेज ग्राफिक्स वीडियो टेक्स्ट इत्यादि को डाटा नाम से पुकारा जाता है। डाटा कई प्रकार का होता है, जो नीचे निम्नलिखित रूप से दिया गया है।
1.) संख्यात्मक डाटा:-  संख्यात्मक डाटा का मतलब यह है, कि इस तरह के डाटा में 0 से 9 तक की संख्या के नंबर रहते हैं। कंप्यूटर में खासकर इसी न्यूमेरिकल डाटा का इस्तेमाल किया जाता है। इसी के आधार पर कई प्रकार के एक्सेल शीट को तैयार किया जाता है।
2.) अक्षर डाटा:- अक्सर डाटा या अल्फाबेट डाटा जिसे हिंदी की वर्णमाला या इंग्लिश के अल्फाबेट वर्ड के आधार पर तैयार किया जाता है। कंप्यूटर में इस प्रकार के डाटा की एक महत्वपूर्ण योग्यता होती है और कई प्रकार के कार्यों को संपन्न करने के लिए इस प्रकार के डाटा के निर्माण की आवश्यकता होती है।
3.) चिन्हात्मक डाटा:- कंप्यूटर में चिन्हात्मक का भी एक महत्वपूर्ण योगदान होता है। इस प्रकार के डाटा में आपने कई प्रकार के लेटर या अन्य रिकॉर्ड में कई प्रकार के विशेष चिन्ह का प्रयोग देखा होगा। इन चिह्न के प्रयोग से तैयार किया गया डाटा चिन्हात्मक डाटा कहलाता हैं।
4.) ऑडियो डाटा:- कंप्यूटर में इस प्रकार के डाटा रिकॉर्डिंग के तौर पर सेव रहते हैं। कंप्यूटर में ऑडियो फॉर्मेट को डाटा के रूप में स्टोर करने के लिए MP3 फॉर्मेट का इस्तेमाल होता है।
5.) विडियो डाटा: – इस प्रकार के डाटा वीडियो के फॉर्मेट में कंप्यूटर में से होते हैं। कंप्यूटर में सेव होने वाली वीडियो फॉर्मेट के डाटा MP4 फॉर्मेट के रूप में कंप्यूटर में सेव रहते हैं।
6.) ग्राफिक्स डाटा:- कंप्यूटर में कई प्रकार के इमेज पिक्चर जिनको ग्राफिक्स और एनिमेशन के माध्यम से बनाया जाता है। इस प्रकार के डाटा कंप्यूटर में जेपीजी पीएनजी फॉरमैट में सेव रहते हैं।
कंप्यूटर में डाटा को कैसे store किया जाता है।:-  कंप्यूटर में डाटा को अलग-अलग फॉर्मेट में इंटरनल स्टोरेज डिवाइस थर्ड पार्टी ड्राइव के अंदर स्टोर किया जाता है। कंप्यूटर में उपलब्ध डाटा और इंफॉर्मेशन किसी प्रकार की हार्ड ड्राइव या स्टोरेज डिवाइस का इस्तेमाल करके इस प्रकार के डेटाफार्मेट को स्टोर किया जाता है। डाटा को कंप्यूटर की मेमोरी में स्टोरेज किया जाता है। कंप्यूटर मेमोरी में स्टोरेज करने के लिए दो कैटेगरी निर्धारित की गई है।इन दो कैटेगरी के अंतर्गत आप कंप्यूटर के डाटा को स्टोर कर सकते हैं।
1.) Permanent storage:- कंप्यूटर की यह परमानेंट स्टोरेज जिसमें डाटा को स्टोरेज करना उचित माना जाता है। परमानेंट स्टोरेज में आपका डाटा सुरक्षित रहता है। कंप्यूटर में परमानेंट स्टोरेज कंप्यूटर का इंटरनल स्टोरेज ही होता है। जिसको हार्ड ड्राइव के नाम से जाना जाता है।
2.) Temporary storage :- यह कंप्यूटर का एक टेंपरेरी स्टोरेज उपलब्ध करवाता है। कंप्यूटर के temporary स्टोरेज में भी डाटा को store किया जा सकता है। कंप्यूटर के इस टेंपरेरी स्टोरेज को रैंडम एक्सेस मेमोरी के नाम से जाना जाता है।

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment