Health News

जीका वायरस क्या होता है , Zika virus in Hindi

Join Telegram Channel Now

जीका वायरस के लक्षण , जीका वायरस फैलता है , जीका वायरस क्या होता है ,What is Zika Virus, जीका वायरस कारण, लक्षण, इलाज और बचने के उपाय , Symptoms of Zika virus in Hindi , जीका वायरस से बचने के उपाय , Prevention of Zika in Hindi

जीका वायरस क्या होता है:-  जीका वायरस यह एक मच्छरों से जनित वायरस है इससे पहले मच्छरों से मलेरिया, डेंगू एवं चिकनगुनिया आदि मच्छर  से फैलने वाले रोग है। कुछ समय में जीका का प्रयोग प्रकोप देखा जा रहा है।यह मच्छर दिन में अतिक्रमण करते हैं ।खास बात तो यह है कि यह मच्छर यदि किसी  संक्रमित व्यक्ति को काट लेता है ।जिसके रक्त में वायरस होने के आसार है ,तो यह अन्य व्यक्ति को भी अपने चपेट में ले लेता है। यही नहीं असुरक्षित यौन संबंध एवं संक्रमित व्यक्ति के रक्त से भी  संक्रमण उत्पन्न हो जाता है एक वायरस इसकी प्रजाति एडीज एवं  एजिप्टी अन्य मच्छरों के  संपर्क में आने से व्यक्ति को फैलता है ।यही नहीं यह चिकनगुनिया एवं डेंगू से भी व्यक्ति को ग्रस्त कर देता है।

कोरोना वायरस क्या गर्मी से मर जाता है

जीका वायरस के लक्षण-

1) वस्तुतः कई बार संक्रमित व्यक्ति खुद को बीमार महसूस नहीं करते।

2)  इसमें समानता व्यक्ति को आम डेंगू बुखार  की तरह बुखार आता है।

3) शारीरिक तौर पर व्यक्ति को थकान के साथ-साथ बुखार भी आता है।

4) रोगी की आंखें लाल ,जोड़ों में दर्द एवं  सिर दर्द की शिकायत भी उभर कर आती है।

5) रोगी के शरीर पर जगह-जगह लाल चकत्ते देखने को मिलते हैं।

6) गर्भावस्था के दौरान जीका मच्छर से पीड़ित महिला को ही नहीं बल्कि उसके अजन्मे बच्चे पर भी बुरा प्रभाव देखने को मिलता है।

Best Laptop Games Free Download

जीका भारत से बचाव के तरीके:- 

1) जैसा कि व्यक्ति डेंगू मच्छर से बचने के लिए उपाय करता है ,वही उपाय जीका वायरस मे भी प्रभावी सिद्ध होते हैं।

2)  सोते समय मच्छरदानी नियमित रूप से का प्रयोग करे।

3) पानी को कूलर या खाली बर्तनों मैं ठहरने नहीं देना चाहिए।

4) घर के साथ साथ व्यक्ति को आसपास की साफ सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए।

 5)मच्छर जनित स्थानों पर व्यक्ति को पहले यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वह खुद को पूरी तरीके से ढक ले ताकि मच्छर व्यक्ति पर  अतिक्रमण ना कर सके ।

6) बाजारों में आजकल आधुनिकतम मच्छरों को मारने के लिए धूम्र एवं धूम्र रहित दवाओं का उपयोग मच्छरों को मारने के लिए किया जाता है उसे उपयोग में लाएं।

7)  व्यक्ति को  रक्त चढ़ाने से पहले रक्त की जांच निश्चित तौर पर करवा लेनी चाहिए जिससे कि संक्रमण की स्थिति उत्पन्न ना हो।

8) इससे ग्रसित व्यक्ति को अधिक से अधिक तरल पदार्थ लेना चाहिए एवं संपूर्ण रूप से आराम करना चाहिए।

 

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment