Kisan Yojana PM Sarkari Yojana Sarkari Yojana

pm kisan pension yojana 2021

इस आलेख में  प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना,जानिए क्या है प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना?, प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के मुख्य बिंदु ,प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना की विशेषताएं,प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना से प्राप्त होने वाले लाभ ,प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के लिए योग्यता |pm kisan pension yojana ,pm kisan pension yojana 2020 ,pm kisan pension yojana list,pm kisan pension yojana 2019 online apply,pm kisan pension yojana form,pm kisan pension yojana maharashtra,pm kisan pension yojana online form ,विस्तार  से बताया गया है |

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना:- मोदी जी का प्रधानमंत्री के रूप में दूसरा कार्यकाल शुरू हो चूका है. और अपनी पहली ही कैबिनेट मीटिंग में मोदी जी ने किसानों, छोटे व्यापारियों एवं दुकानदारों को राहत देने के लिए उन्होंने कुछ अहम फैसले लिए. जिनमें से वरिष्ठ किसानों को अब मोदी सरकार ने पेंशन देने की योजना शुरू की है. यह आजादी के बाद पहली बार हैं कि भारत में किसानों के लिए पेंशन योजना केंद्र सरकार द्वरा लागू की गई है. इस पेंशन योजना के माध्यम से अब गरीब किसानों को उनकी वृद्धावस्था में भी पेंशन के रूप में पैसे मिल सकेंगे, ताकि वे अपनी आजीविका अच्छे से चला सकें. इस योजना के बारे में आप विस्तार से नीचे लेख को पढ़ते हुए जानें|

जानिए क्या है प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना?
यह योजना देश भर के सभी छोटे और सीमांत किसानों के लिए स्वैच्छिक और अंशदायी पेंशन योजना है। सरकार पहले चरण में 5 करोड़ किसानों तक पहुंचेगी। 18 से 40 वर्ष तक की आयु की किसान इस योजना से जुड़ सकेंगे। उन्हें 60 वर्ष पूरा करने के पश्चात 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी।केंद्र सरकार पेंशन फंड में भी उतनी ही राशि का योगदान करेगी जितनी किसान द्वारा दी जाएगी। इसमें 18 साल के किसान को 55 रुपया मासिक देना होगा इतनी ही राशी सरकार भी देगी।अगर लाभ पाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसके पति/पत्नी को 50% रकम मिलती रहेगी।इस योजना की एक विशेषता यह है कि किसान इस योजना में अपना मासिक योगदान सीधे प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए दिए गए लाभों से ले सकते हैं।इस योजना का लक्ष्य पहले 3 सालों में न्यूनतम 5 करोड़ लघु और सीमांत किसानों को कवर करना है।

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के लिए योग्यता:-
1.) वे किसान जो केवल भारत के ही नागरिक हैं और भारत में ही रहकर कार्य कर रहे हैं, उन्हें इस पेंशन योजना का लाभ प्राप्त होगा|
2.)इस योजना में आवेदन करते समय किसान की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच की होनी चाहिए. इसके अलावा किसी भी किसान को इसमें शामिल होने की अनुमति नहीं है|
3.) इस योजना में किसानों को दी जाने वाली 3,000 रूपये की मासिक पेंशन केवल उन किसानों को प्रदान की जाएगी, जोकि 60 साल की उम्र पार कर चुके हैं|

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के मुख्य बिंदु :-
योजना                                      पीएम किसान पेंशन योजना
प्रस्तुत तिथि                               16 अप्रैल 2019
मंत्रालय                                    किसान कल्याण मंत्रालय
लाभार्थी                                    लघु और सीमांत किसान
लाभ                                         मासिक आधार पर पेंशन
आवेदन का तरीका                   ऑनलाइन / ऑफलाइन

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना की विशेषताएं:-
1.) योजना लागू होने के बाद शुरू के 3 सालों में लगभग 5 करोड़ किसानों इस योजना का लाभ मिलेगा. पेंशन केवल उन किसानों को दी जायेगी जो इस योजना के सभी नियमों का पालन करते हो|
2.)जो किसान योजना का लाभ उठाते हैं उन्हें प्रति माह प्रीमियम भरना होगा. यदि कोई 18 वर्ष की उम्र में योजना में भाग लेता हैं तो उसे प्रति माह 55 रूपये का प्रीमियम भरने होंगे. यदि योजना 29 वर्ष की उम्र में शुरू करते हैं तो उसे प्रति माह 100 रूपये भरने होंगे|
3.)योजना के नियमों के अनुसार सरकार द्वारा किसानों के हितों के लिए 10,774.5 करोड़ रूपये दिए जायेंगे|
4.)इस तरह यूनियन कैबिनेट के निर्देश अनुसार में पीएम-किसान योजना को पूरे भारत में जरूरतमंद किसानों के लिए लागू किया जायेगा|
5.)ये भी कहा जा सकता हैं कि 14.5 करोड़ किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा. इस योजना से शुरू के तीन वर्षों में लगभग 5 करोड़ छोटे एवं सीमांत किसानों को लाभ मिलेगा|वास्तव में पहले योजना का लाभ केवल छोटे किसानों को ही मिलना था लेकिन अब इसका क्राईटेरिया एक्सटेंड हो गया है जिससे सरकार देश में ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ पंहुचा सके|

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना से प्राप्त होने वाले लाभ :-
1.)इस योजना के अंतर्गत किसानों को 60 वर्ष की उम्र के बाद तीन हजार रूपये मिलेंगे|
2.)यदि किसान की मृत्यु हो जाती हैं, तो योजना के लाभ का पेंशन अमाउंट पचास प्रतिशत किसान की पति/पत्नी को मिलेगा. लेकिन इस स्थिति के लिए ये नियम भी अनिवार्य होगा कि जिसे पचास प्रतिशत लाभ मिल रहा है वो पहले से इस योजना के लिए पंजीकृत ना हो और योजना का लाभ ना उठा रहा/रही हो|
3.)यदि किसी किसान की योगदान देते समय मतलब पेंशन प्राप्त करने से पूर्व ही मृत्यु हो जाती हैं तो उसके पति/पत्नी योगदान को जारी रख सकते हैं या बीच में ही बंद कर सकते है और नियत समय आने पर पेंशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं|

1 Comment

Leave a Comment