Sarkari Yojana Up Sarkari Yojana

Uttar pradesh pandit deen dayal gyamodyog rozgar yojana | पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना आवेदन

Uttar pradesh pandit deen dayal gyamodyog rozgar yojana

इस आलेख में पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना उत्तर प्रदेश,Uttar pradesh pandit deen dayal gyamodyog rozgar yojana,पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना पात्रता,पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना आवश्दयक दस्तावेज,पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग रोज़गार योजना लाभ,Uttar pradesh pandit deen dayal gyamodyog rozgar yojana,पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना आवेदन आदि के बारे में विस्तार से बताया गया हैं |

पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना उत्तर प्रदेश:-
उत्तर प्रदेश कि राज्य सरकार ने पूरे राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग योजना शुरू की गई है राज्य सरकार ने इस योजना के अंतर्गत युवाओं के लिए ऋण का प्रावधान किया गया जो कि ₹5000000 तक होगा ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ती बेरोजगारी का समाधान करने के लिए ग्रामीण शिक्षित का शहरों की ओर पलायन को हतोत्साहित करने तथा अधिक से अधिक रोजगार का अवसर गांव में ही उपलब्ध कराने का देश है प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्र के व्यक्तिगत उद्यमियों को 2500000 रुपए तक परियोजना लागत का वित्तीय सहायता बैंकों के माध्यम से दिलाया जाएगा।
Uttar pradesh pandit deen dayal gyamodyog rozgar yojana
पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना पात्रता:-
1.)इच्छुक उम्मीदवारों को उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी होना चाहिए।
2.)15 लाख से ऊपर का लोन लेने के लिए युवा कम से कम 10 कक्षा पास होने चाहिए I
3.)लाभार्थियों की आयु 18 से 40 साल के बीच होना चाहिए।

पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना आवश्दयक दस्तावेज:-
1.)आधार कार्ड
2.)शैक्षिक योग्यता प्रमाणपत्र
3.)प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र
4.)फोटो

ऋण राशि और पुनर्भुगतान:-
1.)यहां ऋण की राशि और ऋण की चुकौती का विवरण दिया गया है।
2.)दीनदयाल ग्रामोद्योग विद्यापि योजना के तहत, सभी योग्य उद्यमियों को बैंकों (निजी और सहकारी बैंकों को छोड़कर) से ऋण के जरिए 25 लाख रुपये का ऋण मिलेगा। परियोजना लागत का 5 प्रतिशत उद्यमियों द्वारा खुद ही वहन किया जाएगा
3.)भारतीय रिजर्व बैंक / भारत सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किए गए निर्देशों के मुताबिक, ऋण बैंक को मंजूरी दी जाएगी और वितरित किया जाएगा।
4.)बैंक द्वारा अनुमोदित ऋण की पहली किस्त (जो अनुदान राशि से कम नहीं है) की रिहाई के बाद, ऋणदाता निर्धारित प्रारूप पर जिला ग्रामोद्योग अधिकारी को पूंजीगत सब्सिडी का दावा फॉर्म जारी करेगा।

यह भी जाने :-

1.)मुख्यमंत्री हमारी बेटी योजना

2.)आयुष्मान मित्र भर्ती योजना

पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग रोज़गार योजना लाभ:-
1)इस रोज़गार योजना के द्वारा राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोज़गारो को रोज़गार के लिए लोन उपलब्ध करेंगे।
2.)इस योजना में वित्त पोषण हेतु लाभार्थी की आयु 18 से 50 वर्ष तक होगी।
3.)योजना के द्वारा आवेदकों को बैंक की सहायता से 25.00 लाख तक का लोन प्रदान किया जाएगा।
4.)आवेदन पत्र निर्धारित प्रारूप पर, आधार कार्ड की प्रति, शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र (जहॉं लागू हो), प्रशिक्षण का प्रमाण-पत्र (प्रशिक्षण प्राप्त लाभार्थियों के लिए), प्रस्तावित योजना की रूपरेखा, कार्य स्थल सम्बन्धी अभिलेख एवं फोटो आदि प्रदान करना होगा।
5.)भारतीय रिजर्व बैंक/भारत सरकार द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशानुसार ऋणदाता बैंक द्वारा अभिलेख पूर्ण कराकर ऋण स्वीकृत एवं वितरित किया जाएगा।
6.)रोज़गार योजना के द्वारा ट्रेजरी से सीधे आर0टी0जी0एस0 के माध्यम से ऋणदाता बैंकों को भुगतान कर दिया जाएगा।

पंडित दीनदयाल ग्रामोदय रोज़गार योजना आवेदन:-
1.)इस योजना में आवेदन के लिए सर्वप्रथम आवेदन कर्ता को इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना जाता है।http://upkhadi.data-center.co.in/
2.)ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग योजना वाले पोर्टल पर क्लिक करना होगा।
3.)अब आपके सामने एक आवेदन फॉर्म ओपन होगा।
4.)इस आवेदन फॉर्म को सावधानीपूर्वक भर के सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
5.) इसके बाद एक प्रिंटआउट आप अपने पास रख सकता है।

यह भी पढ़े :-

1.)किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना:-

2.)ऑनलाइन एलपीजी कनेक्शन कैसे ले:-

3.)उत्तर प्रदेश साधु पेंशन योजना:-

4.)यूपी लघु सिंचाई योजना:-

5.)यूपी फ्री साइकिल योजना:-

 

 

Leave a Comment

You cannot copy content of this page