Health News

जानिए लम्पी बीमारी क्या है साथ ही देखे वायरस के लक्षण और देसी उपचार

Join Telegram Channel Now
Written by TeamKTK

जानिए लम्पी बीमारी क्या है साथ ही देखे वायरस के लक्षण और देसी उपचार: पिछले कई दिनों से लम्पी वायरस ने पूरे देश में कहर बरपाया है आपको बता दें लम्पी वायरस गाय और भैंसों को संक्रमित कर रहा है लम्पी वायरस स्किन रोग वायरस का एक संक्रमण है जो एक पशु से दूसरे पशु में फैलता है और उसका समय पर उपचार ना होने पर हजारों की संख्या में गाय और भैंसों की मौतें हो रही है अब तक लम्पी वायरस से सबसे ज्यादा मौतें गायों की हुई है और सबसे ज्यादा संक्रमण गायों में फैला है और अभी भी लम्पी वायरस थमने का नाम नहीं ले रहा । देश के कई राज्यों में इस वायरस ने मासूम गायों और भैंसों की जान ली है। मीडिया रिपोर्ट की माने तो इम्‍यूनिटी से कमजोर गायों लम्पी वायरस से ज्यादा प्रभावित हो रही है अभी तक लम्पी वायरस का कोई ठोस इलाज सामने नहीं आया है पशुपालन विभाग द्वारा वैक्सीन का टीका लगाकर इस रोग को नियंत्रण करने का प्रयास कर रहे है

lumpy Viral kya hai? | Janiye lakshan,aur Gharelu Upay in Hindi

  • गाय और भैंसों में गाठदार त्वचा रोग लम्पी वायरस तेजी से देश के कई राज्यों में फैल रहा है अभी तक 17 राज्यों में फैल चुका है।
  • इस वायरस को लेकर पशुपालन विभाग और पशु चिकित्सा हरकत में आकर लम्पी वायरस को रोकने का ठोस प्रयास कर रहे हैं
  • आपको बता दें लम्पी वायरस त्वचा संबंधित एक वायरस है यह इतना खतरनाक है, कि कोई भी गाय या भैंस इस वायरस से संक्रमित होती है। तो कुछ ही दिनों के भीतर उसकी मृत्यु हो जाती है।
  • हालांकि इस वायरस को रोकने के लिए पशुपालन विभाग द्वारा वैक्सीन लगाई जा रही है। लेकिन वैक्सिंग से भी कोई खास असर नहीं दिख रहा है ।
  • आज हम आपको इस आर्टिकल में लम्पी वायरस के कारण लक्षण और लम्पी वायरस के देसी उपचार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी बताएंगे

लंपी वायरस के के लक्षण | Symptoms of Lumpy Virus in Hindi

  • लम्पी वायरस के लक्षण साफ तौर पर आपको गाय और भैंसों में देखने को मिलते हैं
  • ज्यादातर मामलों में गायों में बुखार, मुंह से लार निकलना, नाक बहना, वजन कम होना।
  • पूरे शरीर पर दर्दनाक नोड्यूल दिखाई देना। त्वचा के गांव कई महीनों तक ठीक नहीं होते,
  • लंगड़ापन, इसके अलावा हमने मुख्य लक्षणों के बारे में नीचे कुछ जानकारी दी है
  • पूरे शरीर मे गांठे बनना और धीरे धीरे बड़ी होना
  • तेज बुखार
  • गाय का दूध देना कम कर देना
  • मादा गाय का गर्भपात हो जाना
  • आँख और नाक से पानी आना
  • खड़े होने में परेशानी होना
  • कमजोरी,मांशपेशियों में दर्द

लम्पी वायरस के के कारण | Lumpy Viral ke karan in Hindi

  • लम्पी वायरस फैलने का अभी तक कोई ठोस कारण सामने नहीं आया ।
  • लेकिन रिपोर्ट की माने तो लम्पी वायरस फैलने का कारण मक्खियों ततैया और मच्छरों द्वारा लम्पी वायरस एक पशु से दूसरे पशु में फ़ैलता है
  • इस वायरस को ‘गांठदार त्वचा रोग वायरस के साथ साथ LSDV से भी जाना जाता है।
  • यह वायरस सीधा मवेशियों के संपर्क में आता है।
  • लम्पी वायरस फैलने का जो कारण दूषित भोजन और गंदा पानी के माध्यम से फैलता है
  • पशुपालक विशेषज्ञ की माने तो लम्पी वायरस को रोकने के लिए अब तक दो लाख से ज्यादा पशुओं को टीका लगाया गया है।
  • कुछ मामलों में यह टीका काफी कारगर साबित हो रहा है ।
  • तो दूसरी ओर टिका लगाने के बावजूद भी कई पशु की पशुओं की मौत हो रही है।

लम्पी बीमारी का देसी उपचार | Lumpy Viral Desi Upchar in Hindi

  • राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड की माने तो लम्पी वायरस को रोकने के लिए देसी उपचार भी काफी कारगर माने जाते हैं
  • हालांकि अगर आपका पशु लम्पी वायरस से संक्रमित है तो उन्हें दूसरे पशु से अलग रखना चाहिए
  • इसके अलावा उन्हें संक्रमित पशु का झूठा पानी या फिर चारा अन्य पशु को नहीं खाने देना चाहिए
  • क्योंकि लम्पी वायरस खाने पीने की वजह से एक पशु से दूसरे पशु में फैलता है
  • हमने लम्पी बीमारी का कारगर देसी उपाय उपचार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी नीचे दी है

घाव में लगाने की औषधि कैसे तैयार करे?
अगर आपका पशु लम्पी वायरस से संक्रमित है वैसे मैं आपको उनके शरीर पर या फिर घाव पर लगाने के लिए एक औषधि को तैयार करना होगा उसे तैयार करने का आसान तरीका है जो हमने नीचे बताया है।

  1. लहसुन की 10 कली
  2. नीम की पत्ती एक मुट्ठी
  3. मेहंदी की पत्ती एक मुट्ठी
  4. कुम्पी का पता एक मुट्ठी
  5. नारियल तेल 500 मिलीलीटर
  6. हल्दी पाउडर 20 ग्राम
  7. तुलसी का पत्ता एक मुट्ठी

इन सभी को पीसकर पेस्ट तैयार करना है इसके बाद नारियल का तेल मिलाकर उबाल लेना है बाद में इसे ठंडा कर ले बाद में इस पेस्ट को लम्पी से पीड़ित पशु के शरीर पर घाव को अच्छे से साफ कर ले उसके बाद उस घाव पर इस पेस्ट को लगा दे। अगर घाव में कीड़े दिखाई दे । तो ऐसे ही मैं आपको नारियल के तेल में कपूर मिलाकर घाव पर लगाना है यह उपचार लम्पी वायरस के लिए काफी कारगर साबित हो रहा है।

Conclusion:- दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने लम्पी बीमारी के लक्षण और देशी उपचार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी हम उम्मीद करते हैं, कि आपको आज का यह आर्टिकल आवश्यक पसंद आया होगा, और आज के इस आर्टिकल से आपको अवश्य कुछ मदद मिली होगी। इस आर्टिकल के बारे में आपकी कोई भी राय है, तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment