Tech News Technology

Cyber Space Internet Kya Hai

Join Telegram Channel Now

साइबर स्पेस इंटरनेट क्या है , Cyber Space Internet Kya Hai  , साइबर स्पेस इंटरनेट की उपयोगिता , साइबर स्पेस इंटरनेट के दो लाभ , साइबरस्पेस मीनिंग इन हिंदी , साइबर स्पेस का परिदृश्य , साइबर स्पेस की उपयोगिता , साइबर स्पेस इंटरनेट के दो लाभ लिखिए

आज के समय में टेलीविजन रेडियो का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है। इसके अलावा वर्ल्ड वेब मीडिया ने भी समाज को काफी ज्यादा प्रभावित किया है। लंबे समय तक मनुष्य द्वारा की गई खोज की वजह से आज के समय में टेलीविजन तथा रेडियो का इस्तेमाल होना संभव हुआ है।आज के युग में इंटरनेट और साइबरस्पेस ने एक आभासी दुनिया बना दी है। क्योंकि इंटरनेट पर एक वैश्विक समाज का निर्माण होता है।यहां पर किसी भी देश की सीमाएं नहीं है साइबरस्पेस और इंटरनेट ने संचार के कई क्रांतिकारी तरीकों को बढ़ा दिया है।
Cyber Space Internet Kya Hai :-  साइबरस्पेस शब्द पहली बार विलियम गिब्सन द्वारा दिया गया। साइबरस्पेस शब्द का सबसे पहले प्रयोग सन 1984 में हुआ। विलियम गिब्सन ने अपनी पुस्तक न्यूरॉमंसर मे साइबरस्पेस शब्द का इस्तेमाल किया। साइबरस्पेस एक संगणक नेटवर्क और कंप्यूटर नेटवर्क द्वारा जोड़कर एक आभासी वातावरण बनाता है। संगणक नेटवर्क और कंप्यूटर नेटवर्क आपस में जुड़ कर एक नए वातावरण को बनाते हैं,जिसे साइबरस्पेस कहते हैं।
सन 1990 के दशक में साइबरस्पेस नाम काफी ज्यादा लोकप्रिय हुआ। क्योंकि इस समय इंटरनेट का उपयोग तेजी से बढ़ रहा था। उससे उत्पन्न होने वाली सभी परिस्थितियां चाहे सामाजिक तौर पर हो या मानसिक तौर पर इन सभी घटनाओं को संक्षिप्त शब्द की आवश्यकता हुई और कई समीक्षकों ने उभरती हुई इन समस्याओं को कृत्रिम वास्तविकता बताते हुए, साइबर स्पेस नाम का प्रयोग करने की सलाह दी।
साइबरस्पेस का दूसरे शब्दों में वर्णन किया जाए तो यह एक त्रि आयामी कंप्यूटर नेटवर्क का वर्चुअल स्पेस है।जो विश्व भर में एक कंप्यूटर के नेटवर्क से बना है।जो संचार और डेटा के आदान-प्रदान गतिविधियों के लिए सहायक है।साइबरस्पेस का निर्माण में एसीपी और आईपी प्रोटोकोल भी नियोजित है।
पिछले तीन दशकों में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं का काफी ज्यादा विस्तार हुआ है। इंटरनेट का सर्वाधिक उपयोग अमेरिका ब्रिटेन जर्मनी जापान चीन और भारत में पिछले 3 दशकों से सबसे ज्यादा फैला है। हर साल इंटरनेट का उपयोग बिलियन में होता है।  साइबरस्पेस जैसे:- ई-मेल, ई-कॉमर्स, ई लर्निंग, ई गवर्नेंस के माध्यम से मनुष्य को समकालीन आर्थिक और सामाजिक उत्थान का भी विस्तार करने का अनुमान हुआ है। यहां एक आधुनिक संचार प्रणाली है।
साइबरस्पेस इंटरनेट, इंटरनेट से अलग कैसे है:-  इंटरनेट का उपयोग विश्व में सर्वाधिक किया जाता है विश्व में सभी डिवाइस इंटरनेट से कनेक्टेड है। इंटरनेट के प्रोटोकॉल सूट टीसीपी और आईपी का उपयोग करने वाले कंप्यूटर जो इंटरनेट से कनेक्टेड है। यह एक वैश्विक प्रणाली के अंतर्गत आते हैं। वहीं दूसरी तरफ साइबरस्पेस एक प्रकार से वर्चुअल कंप्यूटर की दुनिया है। जो कंप्यूटर नेटवर्क को पारंपरिक वातावरण मे कार्य करने में सक्षम है। दूसरे शब्दों में बात की जाए तो यह इंटरनेट के माध्यम से दुनिया का एक वैश्विक स्तर  समाज का निर्माण करता है।

Important Link 
Join Our Telegram Channel 
Follow Google News
PhonePe App Download : जाने इस आसान तरीके से आप कमा सकते है हर दिन 300 रुपये

Leave a Comment