Rajasthan Sarkari Yojana Sarkari Yojana

देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार 2021

देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार 2021

इस आलेख में वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना 2021 ,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना का उद्देश्य,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना की पात्रता,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा स्थनों की सूची,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के लिए आवेदन,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना की अन्य मुख्य शर्तें,वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के लिए चयन प्रक्रिया,tourism department rajasthan,varisth nagrik tirth yatra 2021 , देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार 2021 , Devsthan Vibhag Rajasthan , देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार 2021, Varishth Nagrik आदि के बारे में विस्तार से बतया गया है |

जिसके भी माता, पिता,दादा, दादी या रिस्तेदार जो भी 60 साल से ऊपर थे जो फ्री यात्रा वाले देवस्थान विभाग के फॉर्म भरे गए थे उसकी लिस्ट आ चुकी है जिसका भी नंबर आया है या नही ।। जिसका भी अगर नंबर आया है उसके भी जाने का समय और स्थान कुछ ही दिनों बाद साइड पर uplood हो जाएगा और मोबाइल में भी मसेज आ जायेगा ।। Check List 

देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार 2021 का उद्देश्य:- इस तीर्थ यात्रा योजना का प्राथमिक उद्देश्य प्रत्येक वरिष्ठ नागरिक को राज्य के बाहर धार्मिक स्थानों की कम से कम एक यात्रा प्रदान करना है। यह योजना 2013 में लॉन्च की गई थी और 2019 में एक नए रूप में जारी है। 2019 में इस योजना में हवाई यात्रा को भी शामिल कर दिया गया।इस बार रेल यात्रा में 2 और हवाई यात्रा में 3 नए सर्किट जोड़े गए है। देवस्थान विभाग इस यात्रा का आयोजन करते हैं जिसके अंतर्गत विभाग सभी तीर्थयात्रियों को आवास और खाद्य सुविधा भी उपलब्ध करते हैं। लाभार्थियों को अपनी जेब से किसी भी प्रकार की राशि का भुगतान नहीं करना पड़ता है।

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना की पात्रता:-
आवेदक आयकर दाता नहीं होना चाहिए।
जो अभी तक इस योजना का एक बार लाभ उठा चुके हैं वह इसके लिए अयोग्य है।
इस योजना के तहत आवेदक शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।
इसमें सेवानिवृत्त कर्मचारी अधिकारी उनके साथ ही सरकारी स्थानीय निकाय से यात्रा करने के लिए पात्र नहीं होंगे।
यह जोशना केवल राजस्थान के स्थाई नागरिकों के लिए हैं।
इस योजना के लिए आवेदक की आयु 60 वर्ष होनी अनिवार्य है।

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा स्थनों की सूची:-
रेल द्वारा:-
1.)जगन्नाथपुरी 2.)रामेश्वरम 3.)वैष्णो देवी 4.)तिरुपति 5.)द्वारिकापुरी 6.)अमृतसर 7.)सम्मेद शिखर 8.)गोवा 9.)श्रवणबेलगोला 10.)बिहार शरीफ 11.)शिरडी 12.)पटना साहिब 13.)गया बोधगया काशी सारनाथ
हवाई जहाज द्वारा:-
1.)जगन्नाथ पुरी 2.)रामेश्वरम 3.)तिरुपति 4.)वाराणसी सारनाथ 5.)अमृतसर 6.)गोवा 7.)बिहारशरीफ 9.)शिरडी 10.)पटना साहिब
NOTE:-उक्त सूची में और स्तनों को सम्मिलित अथवा कम किया जा सकता है।

आवेदन प्रारंभ तिथि:-5 जुलाई 2021

ये भी पढ़ें:-

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के लिए आवेदन:-
1.)आवेदन के लिए ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करना होगा जिसकी लिंक नीचे डिस्क्रिप्शन में दी गई है।
2.)इस योजना में केवल ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किए जाएंगे।
3.)आवेदक तथा उनके साथ जाने वाले सहायक दोनों के पास भामाशाह/आधार कार्ड अवश्य होना चाहिए।
4.(आवेदक को आवेदन पत्र में अपनी पसंद के तीर्थ स्थान वरीयता क्रम में अंकित करने होंगे।
5.)आवेदक को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी सावधानीपूर्वक देनी होगी।
6.)आवेदक को आवेदन के उपरांत उसकी एक प्रिंटेड कॉपी साथ में रखना आवश्यक है।
7.)आवेदन प्रक्रिया 5 जुलाई के बाद ऑफिशल वेबसाइट पर शुरू हो जाएगी।

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना की अन्य मुख्य शर्तें:-
1.)आवेदक को आवेदन में किन्हीं दो नाम निर्देशित के नाम मोबाइल नंबर है अन्य विशिष्ट विवरण भी देना होगा जिससे किसी आपात स्थिति में उन से तुरंत संपर्क किया जा सके।
2.)यदि आवेदक 70 वर्ष या अधिक आयु का होने पर एक सहायक को यात्रा पर ले जाने की पात्रता होगी सहायक यात्री उसका संबंधी होना आवश्यक नहीं है।
3.)सहायक यात्री की आयु 21 से 45 वर्ष होनी चाहिए।
4.)पति पत्नी साथ साथ यात्रा करने पर सहायक को साथ ले जाने की सुविधा नहीं रहेगी।
5.)चयनित यात्री को यात्रा से पूर्व स्वास्थ्य संबंधित निर्धारित चिकित्सकीय प्रमाण पत्र लाना अनिवार्य है।

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना के लिए चयन प्रक्रिया:-
1.)प्रत्येक स्थान की यात्रा हेतु प्राप्त आवेदनों में से उपलब्ध कोटे के अनुसार यात्री का चयन किया जाएगा यदि निर्धारित कोटे से अधिक संख्या में आवेदन प्राप्त हो तो लॉटरी द्वारा यात्रियों का चयन किया जाएगा कोठे के 100% अतिरिक्त व्यक्तियों की प्रतीक्षा सूची भी बनाई जाएगी।
2.)चयनित यात्री की यात्रा पर ना जाने की स्थिति में प्रतीक्षा सूची में सम्मिलित व्यक्ति को यात्रा पर भेजा जा सकेगा।
3.)लॉटरी निकालते समय आवेदक के साथ उसकी पत्नी अथवा पति या सहायक को एक मानते हुए लॉटरी निकाली जाएगी, लॉटरी में चयन होने पर यात्रा के लिए उपलब्ध बर्थ सीटों में से उतनी संख्या कम कर दी जाएगी।
4.)केवल वही व्यक्ति यात्रा कर सकता है जिसका चयन किया गया है वह अपने साथ अन्य व्यक्ति को नहीं ले जा सकेगा।
5.)रेलवे हवाई यात्रियों की लॉटरी एक साथ निकाली जाएगी उसके उपरांत 15000 यात्रियों का चयन रेल द्वारा तथा 5000 यात्रियों का चयन हवाई यात्रा हेतु किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:-

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना
official site

2 Comments

Leave a Comment

You cannot copy content of this page